अखिल भारतीय ग्राहक पंचायत द्वारा महाविद्यालय में किया गया विचार-गोष्ठी का आयोजन स्वामी विवेकानंद के विचार हर युग में प्रासंगिक -युद्धवीर सिंह

Uncategorized


हरिद्वार 12 जनवरी । राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रान्तीय प्रचारक युद्धवीर सिंह ने कहा कि स्वामी विवेकानन्द जी ने समाज, देश और संस्ति को आगे बढ़ाने के लिए अमूल्य योगदान दिया। उन्होंने युवा वर्ग को देश निर्माण के लिए प्रेरित किया। साथ ही मातृभूमि की रक्षा के लिए हमेशा जोर दिया। वे आज
एस.एम.जे.एन. पी.जी. काॅलेज में अखिल भारतीय ग्राहक पंचायत उत्तराखण्ड प्रान्त द्वारा स्वामी विवेकानन्द जयन्ती के अवसर पर आयोजित विचार गोष्ठी में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। गोष्ठी का विषय था सामाजिक परिवर्तन में हमारी भूमिका। उन्होंने कहा कि स्वामी विवेकानन्द के विचार हमेशा प्रासंगिक रहेंगे।


युद्धवीर जी ने कहा कि अपने विचारों से दुनियाभर में भारत का नाम रोशन करने वाले स्वामी विवेकानन्द जी ने अल्पायु में ही अनेक महान कार्य किये हैं। वह एक सच्चे राष्ट्रभक्त थे, उनकी राष्ट्रभक्ति व देशप्रेम की भावना किसी से छुपी नहीं है। उन्होंने कहा कि स्वामी विवेकानन्द जी ने अमेरिका के शिकागो में आयोजित हुए विश्व धर्म सम्मेलन में हिन्दू धर्म के महान विचारों को दृढ़ता से रखा था।


रानीपुर विधायक आदेश चैहान ने कहा कि स्वामी विवेकानन्द ने हमेशा युवा पीढ़ी को प्रेरित किया है। दर्जाधारी मंत्री डाॅ. विनोद आर्य ने कहा कि स्वामी विवेकानन्द के विचार हमेशा युवा पीढ़ी के लिए प्रेरणादायी रहेंगे।
स्वागत भाषण करते हुए काॅलेज के प्राचार्य डाॅ. सुनील कुमार बत्रा ने कहा कि स्वामी विवेकानन्द का जीवन आदर्शपूर्ण जीवन था। वे युवाओं के लिए प्रेरणास्त्रोत थे।
अखिल भारतीय ग्राहक पंचायत, उत्तराखण्ड डाॅ. राजीव कुरेले ने संस्था का परिचय दिया। उन्होंने कहा कि स्वामी विवेकानन्द जी के विचारों को जन-जन तक पहुंचाने के लिए संस्था कार्य कर रही है।
अपर कुम्भ मेलाधिकारी हरबीर सिंह ने कहा कि स्वामी विवेकानन्द जी और गुरू गोविन्द सिंह जी ने देश को एक नयी राह दिखाई और देश की एकता व अखण्डता के लिए महान कार्य किया। उन्होंने स्वामी विवेकानन्द जी द्वारा बताये गये मार्ग का अनुसरण कर तथा जीवन का एक लक्ष्य निर्धारित कर सफल होने की अपील की।
अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में डाॅ. सुनील कुमार जोशी, कुलपति, उत्तराखण्ड आयुर्वेद विश्वविद्यालय ने अपनी शुभकामना देते हुए उपस्थित सभी नागरिकों से स्वामी विवेकानन्द जी के आदर्शों का पालन करने का आह्वान किया।
डाॅ. राधिका नागरथ, लेखिका ने कहा कि स्वामी विवेकानन्द जी की सोच आज भी न सिर्फ हिन्दुस्तानी युवाओं में अपितु दुनिया के अनेक देशों में प्रेरणास्त्रोत है।
इस अवसर पर समाज निर्माण में उत्कृष्ट कार्य करने वाली विभूतियों शिक्षाविद् रोहिताश्व कुंवर, अपर कुम्भ मेलाधिकारी हरबीर सिंह, प्रेस क्लब के महामंत्री धर्मेन्द्र चौधरी, लेखिका-विचारक डाॅ. राधिका नागरथ तथा चिकित्साविद् डाॅ. रजनी गुप्ता को स्मृति चिन्ह, अंगवस्त्र व सम्मान पत्र भेंट कर सम्मानित किया गया।
कार्यक्रम का सफल संचालन संजय आर्य ने किया। कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि युद्धवीर जी ने द्वीप प्रज्जवलन और माँ सरस्वती व स्वामी विवेकानन्द की चित्र पर माल्यार्पण कर किया। इस अवसर पर संघ के विभाग प्रचारक शरद जी, जिला प्रचारक अमित शर्मा, संस्कृत भारती के प्रमुख योगेश विद्यार्थी, रविन्द्र गोयल, अनिल गुप्ता, भगवतशरण अग्रवाल, प्रेस क्लब के पूर्व अध्यक्ष राजेश शर्मा, वरिष्ठ पत्रकार राहुल वर्मा, भापा के जिला मंत्री विकास तिवारी, ऋषिकुल आयुर्वेदिक महाविद्यालय के निदेशक प्रो. अनूप कुमार, गुरूकुल महाविद्यालय के प्रो. अरूण त्रिपाठी, संघ के जिला प्रमुख राजेश अधाना, नगर व्यवस्था प्रमुख देशराज, प्रो. बालकिशन पंवार, प्रो. देवेश शुक्ला, प्रो. उत्तम शर्मा, डाॅ. शैलेश प्रधान, रमेश उपाध्याय, शशिकान्त तिवारी, डाॅ. विशाल गर्ग, आरती सैनी, सुनील पाण्डेय, डाॅ. मीनाक्षी, पल्लवी सूद, डाॅ. सुनील मानसिंह, राजेश शर्मा आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *