बेईमान अधिकारी कर्मचारी बख्शे नहीं जाएंगे ईमानदार अधिकारियों कर्मचारियों को मिलेगा आश्रय- विनय शंकर पांडेय

Uncategorized

हरिद्वार। हरिद्वार के नवनियुक्त जिलाधिकारी विनय शंकर पांडेय ने दो टूक शब्दों में कहा कि बेईमान अधिकारी और कर्मचारी बक्से नहीं जाएंगे और ईमानदारअधिकारियों कर्मचारियों को आश्रय दिया जाएगा जिलाधिकारी हरिद्वार ने कार्यभार ग्रहण करने के पश्चात अपनी प्रथम प्रेस वार्ता में सर्वप्रथम उपस्थित मीडिया को अपना परिचय दिया। मीडिया को सम्बोधित करते हुये उन्होंने कहा कि हरिद्वार की पहचान मां गंगा से ही है। उन्होंने अपनी प्राथमिकतायें गिनाते हुये कहा कि समयबद्धता, पूरी पारदर्शिता तथा अपने दायित्वों का निर्वहन पूर्ण निष्ठा व ईमानदारी से करना हमारी प्रमुख प्राथमितायें हैं। उन्होंने कहा कि सरकार की जो प्राथमिकतायें हैं, वही प्राथमिकतायें हमारी भी हैं।
जिलाधिकारी ने कहा कि मैं जनता के लिये हर समय उपलब्ध रहूंगा। उन्होंने कहा कि मैं प्रतिदिन प्रातः दस बजे से डेढ़ बजे तक कलेक्ट्रेट कार्यालय में बैठूंगा तथा किसी आवश्यक कार्य में व्यस्त होने की स्थिति में, ऐसी व्यवस्था बनाई जायेगी कि अपर जिलाधिकारी अथवा कोई न कोई अधिकारी जनता के लिये उपलब्ध रहेंगे।
श्री विनय शंकर पाण्डे ने हरिद्वार का उल्लेख करते हुये कहा कि इसकी पूरे विश्व में मां गंगा की वजह से अलग पहचान है। उन्होंने कहा कि हरिद्वार की साफ-सफाई पर भी ध्यान देने की आवश्यकता है, जिसके लिये मीडिया का सहयोग बहुत आवश्यक है।
जिलाधिकारी ने लक्सर व खानपुर के निचले इलाकों, जहां पर बरसात के समय पानी भर जाता है, का उल्लेख करते हुये कहा कि इसके लिये सिंचाई विभाग को माॅनिटर करने के निर्देश दिये गये हैं। उन्होंने कहा कि बाढ़ आदि आपदाओं के लिये हमारे पास आपातकालीन योजना अवश्य होनी चाहिये। उन्होंने कहा कि बचाव तथा राहत कार्यों के लिये हमारी पहले से ही पूरी तैयारी होनी चाहिये ताकि जरूरत पड़ने पर सम्बन्धित तक तुरन्त सहायता पहुंचनी चाहिये।
पत्रकार वार्ता में मीडिया द्वारा हरिद्वार की मर्यादा का ध्यान रखने, ड्रग तथा शराब के सेवन की समस्या, कोरोना काल से पहले की तरह जनता दरबार कार्यक्रम आयोजित करना, स्कूल खुलने पर बच्चों की सुरक्षा, डेंगू की बीमारी, संभावित तीसरी लहर की तैयारी, वैक्सीनेशन कें लिये अभियान चलाते हुये वैक्सीन की संख्या को बढ़ाना आदि मसलों पर बेबाक चर्चा होने के साथ ही जिलाधिकारी ने कहा कि अगर ड्रग आदि के मामले कहीं से सामने आते हैं, तो उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जायेगी तथा हर क्षेत्र में मीडिया का सहयोग बहुत आवश्यक है। इस पर मीडिया ने पूरा सहयोग देने का आश्वासन दिया।
इस अवसर पर डाॅ0 ललित नारायण मिश्रा, सचिव, हरिद्वार-रूड़की विकास प्राधिकरण, ए0डी0एम(वित्त एवं राजस्व)श्री के0के0 मिश्रा, मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ0 एस0के0 झा, अधिशासी अभियन्ता सिंचाई श्री डी0के0 सिंह, आपदा प्रबन्धन अधिकारी सुश्री मीरा कन्तूरा आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

12 + 12 =