गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय में एनएसएस की कार्यशाला संपन्न

Education Haridwar News

सरकारी योजनाओं का लाभ आम जनता तक पहुंचाएं-  डॉ राधिका नागरथ 
भारत सरकार ने गुरुकुल समेत  ईटीआई के देशभर में 7 केंद्र खोले                                                                       – डॉक्टर मोहर सिंह मीणा हरिद्वार 22 दिसंबर । गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय के सीनेट हॉल में आज आयोजित इंपैनल ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट के बैनर तले आयोजित सात दिवसीय ओरिएंटेशन कार्यक्रम में बतौर मुख्य वक्ता बोलते हुए चिंतक, विचारक ,योगाचार्य और पतंजलि योगपीठ के प्रतिनिधि के रूप में बोलते हुए डॉक्टर राधिका नागरथ ने कहा कि   केंद्र और राज्य सरकारों ने महिलाओं और समाज के पिछड़े ,दलित और कमजोर तबकों के लिए जन कल्याणकारी योजनाएं चलाई हैं । जो योजनाएं उनको आर्थिक रूप से समानता प्रदान करने के लिए बहुत उपयोगी हैं। परंतु जरूरत इन योजनाओं को  वास्तविक रूप से धरातल पर उतारने की है। 

                   
उन्होंने कहा कि महिला स्वयं सहायता समूह के लिए कई योजनाएं ऐसी हैं जो महिलाओं का सशक्तिकरण कर सकती हैं इसके लिए महिलाओं में जागरूकता पैदा करने की जरूरत है उन्होंने कहा कि पिछले दिनों हरिद्वार के जिला उद्योग केंद्र दीपावली के मौके पर कुम्हारों से सजावटी दिए बनाकर उनकी आर्थिक स्थिति सुधारने के लिए एक अच्छी पहल की थी इस तरह की योजनाओं को बढ़ावा दिया जाना चाहिए उन्होंने भारतीय और विदेशी कई सामाजिक संस्थाओं द्वारा पर्वतीय क्षेत्रों में किसानों की दशा सुधारने के लिए कई उपयोगी योजनाओं की जानकारी भी दी और भारत सरकार द्वारा चलाई जा रही कौशल विकास योजना पर प्रकाश डाला ।                  इस कार्यक्रम के संयोजक और  गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय के ईटीआई के नोडल ऑफिसर डॉक्टर मोहर सिंह मीणा ने बताया कि भारत सरकार के युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय द्वारा पूरे देश में 7 ईटीआई केंद्र खोले गए हैं। जिनमें गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय का भी चयन किया गया है और यहां पर उत्तर भारत का ईटीआई केंद्र खोला गया है । जिससे इस विश्वविद्यालय के छात्र-छात्राओं वह विशेष अवसर मिलेगा। गुरुकुल कांगड़ी ईटी आई केंद्र के तहत उत्तराखंड ,उत्तर प्रदेश ,हरियाणा ,राजस्थान, पंजाब और हिमाचल प्रदेश में कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे । यह राज्य गुरुकुल के ई टी आई  केंद्र से जुड़े हुए हैं।                    
कार्यक्रम की  नोडल अधिकारी डॉक्टर मृदुल जोशी ने बताया कि इस सात दिवसीय ओरियंटेशन कोर्स में 34 प्रतिनिधियों ने सहभाग किया। इस कार्यक्रम के दौरान 7 दिनों तक एनएसएस के कार्यकर्ताओं ने गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार पर स्थित कूड़े के ढेर को एनएसएस उद्यान में परिवर्तित कर पर्यावरण के क्षेत्र में महत्वपूर्ण कार्य किया और इस उद्यान में 14 पौधों का रोपण भी किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nineteen − seven =