DIT विश्वविद्यालय एवं UPES की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई द्वारा

Uncategorized

DIT विश्वविद्यालय एवं UPES की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई द्वारा उत्तराखण्ड आयुर्वेद विश्वविद्यालय के सहयोग 7 दिवसीय योग महोत्सव का समापन समारोह आयोजित किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ DIT विश्वविद्यालय के कुलाधिपति श्री N. Ravi Shakar ने अपने संभोधन से किया। उन्होंने कहा कि आज अंतराष्ट्रीय योग दिवस के महोत्सव पर जुड़ने वाले समस्त छात्रों को अपने जीवन में योग को रुक विशेष दर्जा देना चाहिए। जिससे उनका बौद्धिक रुवं शारीरिक विकास हो तथा जीवन में आगे बढ़ने की नई प्रेरणा मिले। उत्तराखण्ड आयुर्वेद विश्वविद्यालय से मा० कुलपति Dr. सुनील जोशी ने समस्त छात्रों से आवाहन किया कि योग एवं आयुर्वेद को अपने जीवन में अपनाएं और स्वस्थ जीवन व्यतीत करें। UPES के कुलपति Dr. Suvil Rai ने तीनों विश्वविद्यालयों द्वारा आयोजित योग कार्यक्रमों की सराहना की। तथा छात्रों को प्रेरणा दी कि भविष्य में भी इस प्रकार के संयुक्त कार्यक्रमों को आयोजित किया जाए।

DIT विश्वविद्यालय के उपकुलपति ब्रिगेडियर Dr. M. Srinivasan ने कहा कि राष्ट्रीय सेवा योजना से जुड़े समस्त छात्रों एवं कार्यक्रम समन्यवकों ने योग महोत्सव को एक सफल आयोजन बनाया। और आज अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर आयोजित इस कार्यक्रम में भाग लेने वाले समस्त छात्रों एवं अध्यापकों को शुभकामनाएं दी। ओर कहा कि योग जीवन का एक अभिन्न अंग है। अत: सभी छात्र योग के महत्त्व समझें और सभी को प्रेरित करें।राजीव कुरेले ने आयुर्वेदिक जीवन शैली अपनाने का आह्वान किया। मुख्य अतिथि श्री अरविंद पांडे मंत्री स्कूली शिक्षा एवं युवा कल्याण उत्तराखंड सरकार ने कहा कि NSS राज्य के विकास में बहुत महत्त्वपूर्ण योगदान कर रही है। जिसमें कोठिंड टीकाकरण जागरुकता अभियान में स्वयं सेवक अपना विशेष योगदान दे रहे है। पहाड़ों में स्थित इकाईयां विभिन्न कार्यों में जिनमें स्वच्छता अभियान, कोविड टीकाकरण अभियान, जागरूकता अभियान शामिल हैं। उन्होंने तीनों विश्वविद्यालयों के समस्त छात्रों, अधिकारियों एवं अध्यापक वर्ग के द्वारा किए गए योगदान की सराहना की।
और भविष्य में अन्य कार्यक्रमों को इसी प्रकार आयोजित करने के लिए सलाह दीं ताकि अधिक से अधिक लोग इस प्रकार के कार्यक्रमों से लाभान्वित हो सब सकें। योग दिवस के अवसर पर प्रातः काल में आचार्य विपिन जोशी जी ने समस्त छात्रों एवं अध्यापकों को आयुष मंत्रालय द्वारा प्राप्त निर्देशों के अनुसार योगळ्यास कराया | DIT दिशाविद्यालय से चीफ प्रॉक्टर Dr. नवीन सिंघल ने सभी अतिथियों का स्वागत किया। कार्यक्रम में UPES से Dr. शैली सिंघल, अमर गुम्ला, शिल्पी अग्रवाल, शिवम भट्ट उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 × four =