साधु संतों ने पंथनिरपेक्ष शब्द पर कड़ी आपत्ति की

Uttarakhand

साधु संतों ने पंथनिरपेक्ष शब्द पर कड़ी आपत्ति की। संतो ने कहा कि साजिश के तहत संविधान में पंथनिरपेक्ष शब्द को जोड़ा है। सन्तो ने कहा कि कांग्रेस की सरकार ने एमरजेंसी के दौरान गैरकानूनी रूप से संविधान में संशोधन कर पंथ निरपेक्ष शब्द जोड़ कर संविधान की प्रस्तावना को बदल दिया था जिसे कभी छेड़ा भी नही जा सकता है। राष्ट्रपति को 10 हजार सन्तो द्वारा हस्ताक्षरित पत्र भेजकर संविधान में संशोधन कर पंथनिरपेक्ष शब्द हटाकर हिन्दू राष्ट्र शब्द जोड़ने की मांग की। यह पत्र पीएम, गृहमंत्री, कानून मंत्री को भी भेजा जा रहा है।
सन्तो ने चेतावनी दी है कि अगर संविधान से इस शब्द को नही हटाया गया तो एक लाख संत दिल्ली की सड़कों पर आंदोलन करेंगे और जब तक सरकार पंथनिरपेक्ष शब्द को संविधान से नही हटाती है तब तक संत आंदोलित रहेंगे।
स्वामी आनंद भारती ने कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह पर पंर भी जोरदार हमला करते हुए कहा कि दिग्विजय सिंह के इतिहास हमेशा से काला रहा है और कांग्रेस हमेशा से पाकिस्तान के साथ खड़ी रही है। उन्होंने दिग्विजय के उस बयान, जिसमे दिग्विजय ने कांग्रेस के सत्ता में आने पर काश्मीर से हारा 370 हटाने की बात यही थी, कहा कि अगर कांग्रेस कश्मीर से धारा 370 हटाना चाहती है तो वह पहले ऐसे अपने चुनाव घोषणा पत्र में शामिल करें।उ होने कहा कि इसी से लगता है कि कांग्रेस काशमीर को फिर से आतंकियों के हाथ मे सौंपना चाहती है। उन्होंने दिग्विजय को देशद्रोहि बताते हे उन्हें जेल में डालने की मांग भी की
स्वामी आनंद भारती ने जनसंख्या नियंत्रण कानून को भी देश के लिए जरूरी बताते हुए कहा की कानून जल्द बने और इसका कड़ाई से पालन भी हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

7 − two =